"प्रथम पुरस्कार विजेता विदर्भ अंचल में प्रतिष्ठित आदर्श सोसाइटी  एवं स्टेट क्रेडिट कोआपरेटिव सोसाइटी के द्वारा प्रायोजित प्रतियोगिता के प्रथम पुरस्कार विजेता"

New

बैंक लोगो के ऊपर आलोकित स्ट्रेप का अर्थ है विधर्भ क्षेत्र में प्रतिष्ठित आदर्श समाज के प्रथम पुरस्कार विजेता एवं राज्य क्रेडिट कोआपरेटिव फेडेरशन द्वारा आयोजित प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार विजेता

अपनी भाषा चुनें :

आर. टी. जी. एस. ओर एन. ई. ऍफ़. टी.

NEFT and RTGS

आर. टी. जी. एस.:

 

एन. ई. ऍफ़. टी. से तात्पर्य है नैशनल इलेक्ट्रौनिक फंड ट्रांसफर। यह भारत में एक संस्था से दूसरी संस्था को  धन स्थानान्तरण करने की आन लाइन प्रणाली है (साधारण तया बैंक के माध्यम से)। यह प्रणाली नवम्बर,२००५ से लागू की गयी है तथा एस. इ. ऍफ़. टी. क्लीयरिंग प्रणाली निर्दिष्ट प्रत्येक बैंकों द्वारा अपनाई गयी।  भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा हर बैंक के लिए दिसंबर, २००५ तक  एस. इ. ऍफ़. टी. क्लीयरिंग प्रणाली के बदले एन. ई. ऍफ़. टी. प्रणाली का प्रयोग बाध्यता मूलक कर दिया गया ।  इस प्रकार जनवरी, २००६ से एस. इ. ऍफ़. टी. प्रणाली समाप्त हो गयी।  भारतीय रिजर्व बैंक ने हर आर. टी. जी. एस. के पूर्ण सदस्य बैंकों को एन. ई. ऍफ़. टी. प्रणाली में योगदान के लिए स्वागत किया ।

 

आर. टी. जी. एस.:

आर. टी. जी. एस. रियल टाइम ग्रौस (सकल) सेटलमेंट का परिवर्णी शब्द है । आर. टी. जी. एस. धन स्थानांतरण की ऐसी प्रणाली है जिसमे धन एक बैंक से दुसरे बैंक में 'रियल टाइम' पर एवं ग्रौस (सकल) आधार पर स्थानांतरित की जाती है । बैंकिंग प्रणाली के प्रयोग में आर. टी. जी. एस. धन स्थानांतरण का  द्रुततम उपाय है ।  'रियल टाइम' का अर्थ है लेन-देन में किसी प्रकार के विलंब का अवकाश नहीं। प्रसंस्करण के साथ-साथ लेन-देन की प्रक्रिया सम्पूर्ण हो जाती है । यह दो संस्थाओं के मध्य संपन्न होगा एवं बीच में किसी और लेन-देन के साथ संयुक्त नहीं होगा,  एवं ग्रौस (सकल) भुगतान का अर्थ है दोनों संस्थाओं के बीच लेन-देन सम्पूर्ण एवं बीच में किसी और लेन-देन के साथ संयुक्त नहीं होगा।  लेन-देन को अंतिम समझा जायगा एवं इसमें कोई परिवर्तन नहीं होगा क्यों की इस लेन-देन की प्रविष्टि  भारतीय रिजर्व बैंक के खाते में हो जाती है। यह प्रणाली भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा कायम रखी जाती है कार्य दिवसों में निर्दिष्ट घंटों के लिए उपलब्ध है। आर. टी. जी. एस. का प्रयोग करने वाले बैंक के लिए आर. टी. जी. एस. लेन-देन प्रारंभ करने के लिए कोर बैंकिंग का होना आवश्यक है । 

 

लाभ:

प्राप्तकर्ता निश्चित समय पर भुगतान प्राप्त करता है ।

  • डिमांड ड्राफ्ट बनाने तथा प्रेषण का खर्च नहीं।
  • कागज़ पर आधारित साधन में धोखा धड़ी की संभावना है पर इस प्रणाली में इस प्रकार की संभावना कम होती है ।
  • मिलान के समय की बचत।

समाचारसमाचार

आगामी शाखा घतंजी

............................................................

'विदर्भ क्रेडिट सहकारी संघ' की और से  राजलक्ष्मी मल्टी स्टेट को  छठी  बार निरंतर प्रथम पुरस्कार मिला 

............................................................

इनकमिंग आरटीजीएस/एनइएफटी की सुविधा भी उपलब्ध

............................................................

............................................................

अब अपने डीएमडी२ प्लान के साथ केवल ७० महीनों में ही अपने धन को दुगुना करें

............................................................

राजलक्ष्मी जमा व ऋण पर बहुत ही बढ़िया ब्याज दर की सुविधा प्रदान करती है

............................................................

सुविधाः एसएमएस बैंकिंग, एटीएम, इटंरनेट बैंकिंग, आरटीजीएस, एनइएफटी और डीडी

............................................................

राजलक्ष्मी का कार्य क्षेत्र महाराष्ट्र, आध्रं प्रदेश, मध्य प्रदेश, गोवा, छत्तीसगढ़, गुजरात और कर्नाटक है

............................................................

राजलक्ष्मी अब बहु राज्य और आइएसओ प्रमाणित संगठन ९००१-२००८ है।

............................................................

विदर्भ क्षेत्र के प्रतिष्ठित आदर्श समाज में लगातार पाँच वर्षों तक प्रथम पुरस्कार प्राप्त किया।

............................................................